Home / Hindi Kahani / A Life Changing Story in Hindi जिंदगी बदल देने वाली कहानी

A Life Changing Story in Hindi जिंदगी बदल देने वाली कहानी

जिंदगी बदल देने वाली कहानी

A life changing story in Hindi. An Inspirational Kahani in Hindi. 

एक किले का सेनापति अपने सैनिकों का नेतृत्व कर रहा था। उसके सैनिकों ने एक किले की घेराबंदीकर ली थी। वे सब चौबीसों घंटे किले की निगरानी कर रहे थे। किले से आँख बचाकर कोई भी नहीं भाग सकता था।

किले के सेनापति ने अपने निकट सहयोगियों से कहा, “हमारे सैनिकों को भोजन तथा पानी की नितांत आवश्यकता है। उनके पास बहुत थोड़े भोजन और जल की व्यवस्था है, जो अपर्याप्त है। हम शीघ्र ही दुश्मन के हाथों मारे जाएंगे।’

घेराबंदी जारी रही। एक महीना बीत जाने के बाद भी उसके सैनिकों के मन में तनिक भी घबराहट नहीं थी। सेनापति को अपनी जीत पर पूरा भरोसा था।

उसी रात सेनापति पास के शहर में गया। घुड़सवारी करता हुआ वह नगर के परिसर में स्थित एक घर पर पहुंचा। उसने उस घर का दरवाजा खटखटाया। अंदर से आवाज आई, ‘कौन है?’ सेनापति ने बाहर से ही अपना परिचय दिया। दरवाजा खुलने पर मेजबान ने बिना किसी उत्साह का प्रदर्शन किए सेनापति को अंदर आने के लिए कहा।

सेनापति ने झट से उसे टोका कि वह उसके आने से खुश नहीं लग रहा है। तब मेजबान ने दबे हुए स्वर में जवाब दिया, “आप इसकी वजह भली-भांति जानते हैं। एक समय में मैं किले में अधिकारी हुआ करता था। अब मैं सेवा-निवृत्त हो चुका हूं और किले से दूर यहां आकर बस चुका हूं। अगर सैनिकों को यह पता चल गया कि मैं आपसे मिला हूं, तो वे लोग मेरा कत्ल कर देंगे।’

सेनापति ने कहा, “ठीक है, मैं जरूरत से ज्यादा यहां नहीं ठहरूंगा। जब तुम किले में कार्यरत थे, तब मैंने आर्थिक रूप से कई बार तुम्हारी

सहायता की थी। क्या मैंने कभी भी बदले में तुमसे कुछ मांगा? अब तुमसे कुछ मांगने का वक्त आ गया है। मुझे यह बताओ कि क्या किले की ओर जाने के लिए कोई गुप्त रास्ता है?’

मेजबान इस बात का जवाब देने में हिचकिचाने लगा।

Motivational hindi Kahani

इस पर सेनापति ने जोर देकर कहा, “जल्दी से मुझे बताओ, नहीं तो मैं तुम्हारे अधिकारी के समक्ष गवाह पेश करके यह साबित कर दूंगा कि तुमने मुझसे रिश्वत ली है। यह तुम्हारे जीवन का अंत ही होगा।’ मेजबान ने न चाहते हुए भी सेनापति को गुप्त रास्ते की जानकारी दे दी।

तत्पश्चात् सेनापति वहां से घोड़े में सवार होकर रवाना हो गया। वह मन ही मन विचार करने लगा कि रिश्वतखोर हमेशा के लिए बिक जाता है।’

अगले दिन शाम होते ही सेनापति अपने कुछ सैनिकों के साथ उस सुरंग तक पहुंच गया जिसका पता उसे किले के पूर्व अधिकारी से मिला था। उसने अपने सैनिकों को चुपके से आक्रमण करने का आदेश दिया। किले के अंदर उपस्थित सभी सैनिक आश्चर्यचकित रह गए। अगले ही पल सारे सैनिक किले के अंदर घुस गए तथा किले पर अपना कब्जा जमा लिया। इस प्रकार एक रिश्वतखोर के कारण किला हाथ से जाता रहा।

शिक्षा : इस कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती हैं कि जिसके मुंह खून लग गया हो वह उसका स्वाद बार-बार चखने का आदी हो जाता हैं/ जो आदमी पैसों की खातिर खुद को बेंच देता हैं, वह सदा के लिए दूसरों का गुलाम बनकर रह जाता हैं.

ऐसी और हिंदी MOTIVATIONAL कहानी पढ़ें –

  1. एक हिंदी कहानी जो देती आपको शिक्षा
  2. माँ की अरदास
  3. हरी पतग और लाल दुपट्टा : Long Hindi Story
  4. परिचय : लघुकथा | Hindi Short Kahani
  5. मजदूर की कहानी : Short Hindi Story
  6. लघुकथा : दोहरी सोच | Hindi Kahani

 

3 comments

  1. बेहतरीन कहानी है।

  2. शानदार पोस्ट … बहुत ही बढ़िया लगा पढ़कर …. Thanks for sharing such a nice article!! 🙂 🙂

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *