Home / Uncategorized / अंग्रेजी सीखने के 5 तरीके : 5 Ways to Learn English

अंग्रेजी सीखने के 5 तरीके : 5 Ways to Learn English

वैश्वीकरण
के साथ ही एक से अधिक भाषाओं पर कमांडसमय की जरुरत बन गई। ऐसे में खास तवज्जों
अंग्रेजी को मिली। विदेशी भाषा होने की वजह से कई बार हमलोग खुद को इसमें
कमजोरमहसूस करते हैं लेकिनसच्चाई यह है कि यदिथोड़ा सा भी नियमित अख्यास किया जाए
तोहम अंग्रेजी भाषा परआसानी से अपनी पकड़बना सकते हैं। इसकेलिए एकाग्र होना होगा।
नहीं कोई हीनता –
अंग्रेजी
पर कमांड के लिए सबसे पहलेमन से यह हीन भावना निकाल दीजिएकि अंग्रेजी न आने की वजह
से आप अधूरेया पिछड़े हैं। यह एक विदेशी भाषा है,और उपयुब्त माहौल न मिलने पर यदिइसपर
हमारी कमांड नहीं है तो इसमें कोईअपराध नहीं है। हीन भावना हटाने के बादही आप अपनी
क्षमताओं को एकत्रा करकेएक सही दिशा दे पाएंगे।
बेसिक से करें शुरु –
हम
लोगों में से बहुत से लोगों ने पढ़़ाईहिंदी माध्यम से की है। इसके चलते भीअंग्रेजी
का अख्यास नहीं हो पाता। इसस्थिति में बेसिक से शुरुआत करनीचाहिए। कक्षा पहली, दूसरी की अंग्रेजीकी किताबों से पढ़़ना
शुरु करेंगे तोआसानी से गति पकड़ पाएंगे।
खुलेंगे दायरे –
अंग्रेजी
जानने से जॉब हासिल करने में तो मददमिलती ही है, साथ ही आपके लिए एक नई संस्कृतिके
दरवाजे भी खुल जाते हैं। हर नई भाषा के साथउसकी संस्कृति, कला और लोगों को जानने केअवसर जुड़े
रहते हैं। इस तरह एक नई भाषासीखकर आप खुद को सांस्कृतिक रुप में भी समृद्धऔर
जानकार बना स• ते
हैं।
बोलना भी जरुरी –
अक्सर
ऐसा होता है कि हम अंग्रेजी लिख और पढ़़तो लेते हैं लेकिन बोलने में झिझक महसूस
करनेलगते हैं। इस झिझक को दूर करने का तरीका हैकि ऐसे दोस्त या शिक्षक के साथ
अंग्रेजी में बातशुरु कीजिए, जो अंग्रेजी जानता है और आपकीगलतियां भी आराम से बताता है। बोलने के
अख्याससे आपकी यह झिझक दूर हो जाएगी।
जरुरी है प्रैक्टिस –

किसी
भी भाषा पर कमांड तभी बनाईजा सकती है, जब
उसका पूरा औरलगातार अख्यास किया जाए। अंग्रेजीकी किताबों को पढ़़ने के अलावा पढ़़ेगए
पाठ, व्याकरण आदि का अख्यासकरें। इसके लिए
अंग्रेजी के नाॅवेल,अखबार, मैगजीन आदि पढ़़ें। शुरु मेंपढ़़ने की गति कम हो सकती है लेकिनधीर-धीरे
आगे बढ़़ें। पढ़़ने पर कमांडआने के बाद अंग्रेजी में आने वालेकाटूर्न देखें। आप
इंग्लिश न्यूज चैनलऔर मूवीज के जरिए भी अपनी यहप्रैक्टिस जारी रख सकते हैं।
इससेएक्सेंट की समझ बनेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *